प्रेगनेंसी टेस्ट pregnancy test kab kare pregnancy test kab karna chahiye

आइए दोस्तों आज हम आपको प्रेगनेंसी टेस्ट के बारे में पूरी जानकारी देते हैं, प्रेगनेंसी टेस्ट कैसे करते हैं, प्रेगनेंसी टेस्ट का इस्तेमाल कब और कैसे किया जाता है। प्रेगनेंसी टेस्ट का इस्तेमाल करने पर क्या होता है।

और इसके साथ साथ हम आपको pregnancy test karne ke tarike भी बताएंगे, और इस बात की जानकारी भी देंगे, pregnancy test kab karna chahiye और कई सारे लोग हमसे यह सवाल करते हैं, कि pregnancy test kitne din me kare तो उसके बारे में भी विस्तार से जानेंगे।

तो दोस्तों प्रेगनेंसी टेस्ट से जुड़ी बातें जाने के लिए इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें‌, सबसे पहले हम आपको बताते हैं, कि प्रेगनेंसी टेस्ट कैसे करते हैं। प्रेगनेंसी टेस्ट का मतलब होता है, घर बैठे आप यह जान सकते हैं, कि आप pragant है या नहीं।

प्रेगनेंसी टेस्ट एक ऐसा किट होता है। जिसमें हम urine डालकर यह पता लगा सकते हैं, कि महिला प्रेग्नेंट है, या नहीं है। इसके अलावा प्रेगनेंसी टेस्ट आपको किसी भी medical store पर बड़ी आसानी से मिल जाता है।

उसके अलावा प्रेगनेंसी टेस्ट का इस्तेमाल आपको पीरियड मिस होने के 1 से 2 हफ्ते बाद ही करना चाहिए। उसके बाद आपको यह confirm हो जाता है, कि आप प्रेग्नेंट है। अगर आप प्रेगनेंसी टेस्ट का इस्तेमाल उसी महीने में कर लेते हैं, तो हो सकता है, आपको उसमें प्रेगनेंसी का पता ना चले।

इसीलिए प्रेगनेंसी टेस्ट आपको period मिस होने के 1 से 2 हफ्ते बाद ही करना चाहिए, क्योंकि आप को प्रेगनेंसी का पता 1 से 2 हफ्ते में चल जाता है, कहीं सारी महिलाएं यह सोचती है, कि प्रेगनेंसी टेस्ट करने पर उनके pregnancy confirm नहीं होगी।

लेकिन ऐसा बिल्कुल भी नहीं होता है। अगर आप प्रेग्नेंट है, और period मिस होने के कुछ दिन बाद प्रेगनेंसी टेस्ट करती है, तो आपको प्रेगनेंसी confirm हो जाती है। आज के modern युग में सभी महिलाएं प्रेगनेंसी कंफर्म करने के लिए प्रेगनेंसी टेस्ट का इस्तेमाल करती है।

इसके अलावा कई सारे लोग यह भी सवाल करते हैं, कि Pregnancy Test: प्रेग्नेंसी टेस्ट के कितने प्रकार होते हैं, हमें कौनसे प्रेगनेंसी टेस्ट का इस्तेमाल करना चाहिए, तो हम आपको बताते हैं। प्रेगनेंसी टेस्ट कितने प्रकार के होते हैं।

प्रेगनेंसी टेस्ट कितने प्रकार के होते है (Types of pregnancy tests you must know about )

चलिए जानते हैं, प्रेगनेंसी टेस्ट कितने प्रकार के होते हैं। प्रेगनेंसी टेस्ट कई प्रकार के होते हैं, आप कई तरीके से प्रेगनेंसी टेस्ट कर सकते हैं। हम आपको प्रेगनेंसी टेस्ट कितने प्रकार के होते हैं, इसके बारे में पूरी जानकारी देते हैं।

1 शैंपू से प्रेगनेंसी टेस्ट
2 डेटॉल की सहायता से प्रेगनेंसी टेस्ट
3 साबुन के द्वारा प्रेगनेंसी टेस्ट
4 टूथपेस्ट से प्रेगनेंसी टेस्ट
5 विनेगर की सहायता से प्रेगनेंसी टेस्ट
6 ब्लीच की सहायता से प्रेगनेंसी टेस्ट
7 बेकिंग सोडा की सहायता से प्रेगनेंसी टेस्ट

प्रेगनेंसी टेस्ट किट कितने प्रकार के होते है

1 आई-कैन 50 रु में उपलब्ध है
2 वेलोसिट इजी 98 रु में उपलब्ध है
3 एक्यू 40 रु में उपलब्ध है
4 प्रेगा न्यूज़ एडवांस 50 रु में उपलब्ध है
5 वेलोसिट 50 रु में उपलब्ध है
6 प्रगकलर 70 रु में उपलब्ध है
7 क्लीयरब्लू 86 रु में उपलब्ध है
8 प्रेगा न्युज 50 रु में उपलब्ध है

pregnancy test kab karna chahiye प्रेगनेंसी टेस्ट कब करना चाहिए

pregnancy test kab kare in hindi आइए दोस्तों हम आपको बताते हैं pregnancy test kab karna chahiye किस समय Pregnancy Test कराने से सही रिजल्‍ट आएगा।

मतलब पीरियड मिस होने के कितने दिन बाद आपको प्रेगनेंसी टेस्ट करना चाहिए। महिला प्रेग्नेंट है, या नहीं है। इसका पता महिला की शरीर के अंदर एक हार्मोन पाया जाता है। जिसे HCG ही यह पता चलता है, कि महिला गर्भवती है, या नहीं है।

इसके अलावा आप जानते हैं, कि pregnancy test kab karna chahiye प्रेगनेंसी टेस्ट आपको पीरियड मिस होने के एक हफ्ते बाद करना चाहिए। अगर आप एक हफ्ते बाद प्रेगनेंसी टेस्ट करते हैं तो आपकी प्रेगनेंसी confirm हो जाती है।

इसके अलावा आपको प्रेगनेंसी से morning के समय करना चाहिए, क्योंकि सुबह के समय हमारी बॉडी में HCG की मात्रा बहुत अधिक रहती है, इसीलिए आपको सुबह के समय प्रेगनेंसी टेस्ट करना चाहिए।

प्रेगनेंसी टेस्ट के अलावा की महिला को यह पता चल जाता है, कि महिला प्रेग्नेंट है, या नहीं है, कि महिला के शरीर के अंदर कुछ ऐसे परिवर्तन देखे जा सकते हैं। जिसके कारण हम यह जान सकते हैं, कि महिला प्रेग्नेंट है।

जैसे उल्टी आना
ऐठन
पेट दर्द
खाने में अरुचि होना
थकान होना

अगर ऐसे symptoms किसी भी महिला में दिखाई देते हैं, तो आप यह पता लगा सकते हैं, कि महिला प्रेग्नेंट है, क्योंकि एक साथ सभी symptoms के साथ normal महिला में नहीं दिखाई देते हैं।

pregnancy test kitne din me kare in hindi प्रेगनेंसी टेस्ट कितने दिन में करें इन‌ हिंदी

pregnancy test kitne dino me karna chahiye pregnancy test kitne din me kare जानें सही वक्त और तरीका जी हां दोस्तों अगर किसी महिला की प्रेगनेंसी मिस हो जाती है, तो उस महिला को बहुत ही चिंता हो जाती है।

कि वह प्रेग्नेंट नहीं है। इसके अलावा महिला को एक उम्मीद मिल मिल जाती है, कि वह प्रेग्नेंट है। ऐसे में उस महिला को प्रेगनेंसी टेस्ट करके अपनी उलझन का समाधान कर लेना चाहिए, लेकिन कई सारी महिलाओं यह भी सवाल करती है, कि pregnancy test kitne din me kare

हम आपको बता देते हैं, कि अगर कोई महिला प्रेग्नेंट होती है, तो प्रेगनेंसी के लक्षण दिखाई देने लग जाते हैं, जैसे उल्टी आना, थकावट होना, हाथ पैर दर्द होना, पेट दर्द होना, मिचली आना, जैसे लक्षण दिखाई देने लग जाते हैं।

और इसके अलावा अगर आप प्रेग्नेंट होना चाहती है, तो आपका ध्यान इन सभी बातों पर ज्यादा जाता है, कि आपको अपने आप ही यह महसूस होने लग जाता है, कि आपके साथ यह सभी चीजें हो रही है, तो हो सकता है, आप प्रेग्नेंट है।

इसके अलावा कई बार ऐसा भी हो जाता है, कि आपको कोई बीमारी के कारण भी पीरियड मिस हो जाता है, और आप प्रेगनेंसी टेस्ट करते हैं, तो आपको उसमें रिजल्ट नेगेटिव दिखाता है, और आपको पीरियड नहीं आता है।

तो इस स्थिति में आपको डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए तो चलिए अब जानते हैं, कि pregnancy test kitne din me kare जी हां दोस्तों हम आपके इस टॉपिक को क्लियर करते हैं। pregnancy test kitne din me kare

पीरियड मिस होने के एक हफ्ते बाद में आपको प्रेगनेंसी टेस्ट करना चाहिए, क्योंकि अगर आप पीरियड मिस होने वाले महीने में या 1 महीने से पहले ही प्रेगनेंसी टेस्ट कर लेते हैं, तो आपकी रिपोर्ट नेगेटिव भी आ सकती है।

इसीलिए आपको पीरियड मिस होने के एक हफ्ते बाद ही प्रेगनेंसी टेस्ट करना चाहिए। उससे पहले प्रेगनेंसी टेस्ट करते हैं, तो आपकी प्रेगनेंसी रिपोर्ट नेगेटिव भी आ सकती है।

इसके अलावा हम आपको यह भी बता देते हैं, कि अगर आपको पीरियड नहीं आ रहा है, और आपने प्रेगनेंसी टेस्ट भी कर लिया है, और उसमें भी आप की रिपोर्ट नेगेटिव आ रही है, तो आपको डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।

pregnancy kitne din me pata chalta hai
प्रेगनेंसी कितने दिन में पता चलता है,

आइए दोस्तों आज हम आपको बताते हैं कि Pregnancy Kitne Din Mein Pata Chalta Hai प्रेगनेंसी कितने दिन में पता चलता है, जी हां दोस्तों मां बनना किसी भी महिला के बहुत सौभाग्य की बात होती है।

लेकिन कई सारी महिलाएं उनसे यह पूछती ,है कि
pregnancy kitne din me pata chalta hai प्रेगनेंसी के दौरान महिलाओं के शरीर में कुछ ऐसे बदलाव आते हैं। जिससे महिला खुद ही यह समझ जाती है कि वह प्रेग्नेंट है या नहीं।

इसके अलावा प्रेगनेंसी कंफर्म के लिए सबसे महत्वपूर्ण यह होता है, कि आपका पीरियड मिस हुआ है, या नहीं अगर आपको पीरियड आए हुए 1 महीने कुछ दिन ऊपर हो गए हैं, तो आप प्रेग्नेंट हो सकते हैं।

तो आप जानते हैं कि pregnancy kitne din me pata chalta hai इसके अलावा महिला के शरीर में हो रहे परिवर्तनों से भी आप यह पता लगा सकते हैं, कि महिला प्रेग्नेंट है, या नहीं क्योंकि प्रेगनेंसी के शुरुआती महीने में ही महिला को उल्टी आना, मिचली आना, पेट दर्द, ऐंठन, थकावट, आदि से यह जाना जा सकता है, कि आप प्रेग्नेंट है।

क्योंकि प्रेगनेंसी में यह सभी परिवर्तन होना आम बात होता है। अगर किसी महिला के बॉडी में परिवर्तन होते हैं, तो उसे समझ जाना चाहिए, कि वह पेट से है।

इसके अलावा अगर आपको यह कंफर्म करना है, कि pregnancy kitne din me pata chalta hai और आपको पीरियड आए हुए 1 महीने से ऊपर हो गया है, तो आपको प्रेगनेंसी टेस्ट किट लाकर प्रेगनेंसी टेस्ट कर लेना चाहिए।

प्रेगनेंसी टेस्ट किट आपको मार्केट में किसी भी मेडिकल स्टोर पर मिल जाता है। इसे आप यह कंफर्म कर सकती हैं कि आप प्रेग्नेंट है या नहीं।

periods miss hone ke kitne din baad pregnancy test kare पीरियड मिस होने के कितने दिन बाद प्रेगनेंसी टेस्ट करे

pregnancy test kitne din baad karna chahiye आइए दोस्तों अब हम आपको बताते periods miss hone ke kitne din baad pregnancy test kare जी हां दोस्तों कई सारे लोग यह सवाल करती है, कि pregnancy test kitne din baad karna chahiye

पीरियड मिस होने के कितने दिन बाद आपको प्रेगनेंसी टेस्ट करना चाहिए। इसके बारे में हम आपको पूरी जानकारी देंगे। इसके साथ-साथ हम आपको प्रेगनेंसी जुड़े और भी कई सारी बातों के बारे में बताएंगे।

हमें प्रेगनेंसी टेस्ट पीरियड मिस होने के 1 हफ्ते बाद में करना चाहिएं, क्योंकि अगर आप 1 महीने की प्रेगनेंसी में ही प्रेगनेंसी टेस्ट करते हैं, तो आपको इसका रिजल्ट नेगेटिव भी दिखाई दे सकता है।

इसीलिए मैं प्रेगनेंसी टेस्ट पीरियड मिस होने के 1 हफ्ते बाद नहीं करना चाहिए।

pregnancy test karne ke tarike प्रेगनेंसी टेस्ट करने का तरीका

आइए दोस्तों आज हम आपको बताते हैं, pregnancy test karne ke tarike प्रेगनेंसी टेस्ट करने का तरीका क्या है, इसका अलावा हम आपको यह भी बताएंगे, कि घर पर प्रेगनेंसी टेस्ट करते समय किन किन बातों का ध्यान रखना चाहिए।

जी हां दोस्तों हम प्रेगनेंसी टेस्ट तभी कर सकते हैं। जब हमें pregnancy test karne ke tarike मालूम हो अगर हमें pregnancy test karne ke tarike मालूम नहीं होंगे, तो हम सही तरीके से प्रेगनेंसी टेस्ट नहीं कर सकते हैं।

इसीलिए प्रेगनेंसी टेस्ट करने से पहले pregnancy test karne ke tarike जरूर जान लेने चाहिए, कि किस प्रकार आप घर बैठे प्रेगनेंसी टेस्ट कर सकते हैं। आजकल सभी महिलाएं होम प्रेगनेंसी टेस्ट करती है।

प्रेगनेंसी टेस्ट के जरिए महिला घर बैठे जान सकती है, कि वह प्रेग्नेंट है या नहीं इसके अलावा भी प्रेगनेंसी टेस्ट करने के और भी कई सारे तरीके हैं। जी हां दोस्तों अगर आप प्रेगनेंसी टेस्ट किट लाकर घर बैठे प्रेगनेंसी टेस्ट नहीं करना चाहते हैं, तो हम आपको बिना प्रेगनेंसी टेस्ट के प्रेगनेंसी टेस्ट करने के तरीके बताते हैं।

चलिए बताते हैं pregnancy test karne ke tarike क्या क्या है किन-किन तरीकों से आप प्रेगनेंसी टेस्ट कर सकते हैं‌।

pregnancy test karne ke tarike जाने

1 . पैशाब से प्रेगनेंसी टेस्ट अगर आप प्रेगनेंसी टेस्ट करना है तो यह तरीका जरूर अपनाना चाहिए, यह बहुत ही सरल तरीका है। इसमें आपको एक का कांच का बर्तन लेना है। उसके अंदर पेशाब डाल कर रख देना है। अगर कुछ समय बाद उस पर सफेद परत आ जाती है तो आप प्रेग्नेंट है।

2 pregnancy test karne ke लिए आप मार्केट से आप प्रेगा न्यूज़ खरीद कर भी प्रेगनेंसी टेस्ट कर सकते हैं। आजकल के ज्यादातर महिलाएं prega news प्रेगनेंसी confirmकरती है, इसीलिए आप प्रेगनेंसी टेस्ट से भी यह कंफर्म कर सकती है, कि आप गर्भवती है या नहीं।

3 इसके अलावा विनेगर में पेशाब डालकर भी आप प्रेगनेंसी कंफर्म कर सकते हैं। आप अपने घर में पेशाब डालते हैं और विनेगर का रंग चेंज होता है, तो आप प्रेग्नेंट है।

4 इसके अलावा चीनी से भी आप प्रेगनेंसी टेस्ट कर सकते हैं। चीनी के अंदर urine को डालें, अगर यूरिन और चीनी दोनों आपस में घुल जाते हैं, तो आप प्रेग्नेंट नहीं होते हैं, लेकिन अगर चीनी और यूरिन चिपक जाते हैं, तो इससे यह पता चलता है, कि आप प्रेग्नेंट है।

5 इसके अलावा प्रेगनेंसी टेस्ट करने का एक और भी आसान तरीका है। इसके लिए आपको एक शब्द लेनी है, और साबुन में पेशाब मिलाना है। अगर साबुन से बुलबुले उठते हैं, तो आप यह समझ लीजिए कि आप प्रेग्नेंट है।