पीठ दर्द के लिए आयुर्वेदिक उपचार। पीठ दर्द में अखरोट का आयुर्वेदिक उपचार

बैक पेन– आइए दोस्तों आज हम आपको बताते हैं। पीठ दर्द के ayurvedic उपचार हम घर बैठे आयुर्वेदिक उपचार करके back pain से कैसे छुटकारा पा सकते हैं। आजकल बैक पेन की problem बहुत ही ज्यादा बढ़ रही है।

आजकल कम उम्र के व्यक्ति भी back pain की समस्या से ग्रसित है, तो आज हम आपको पीठ दर्द के कुछ ayurvedic upchar बताएंगे। जिसको करने से आपको बहुत ही ज्यादा benefit होगा।

अगर आप बैक पेन के आयुर्वेदिक उपचारो के बारे में नहीं जानते हैं, तो आप इस article को जरूर पढ़ें। इसमें आपको हम सभी तरह के पीठ दर्द के आयुर्वेदिक उपचार बताएंगे।

आजकल की नई पीठ पेट दर्द की समस्या से बहुत ही ज्यादा परेशान है, इसीलिए हम आपको पीठ दर्द के कुछ आयुर्वेदिक उपचार बताएंगे, और ज्यादातर महिलाएं हैं। Back pain कमर दर्द के Rog से परेशान रहती हैं।

बैक पेन का कारण महिलाओं के pregnancy में विभिन्न प्रकार के विकार का उत्पन्न होना है। इसके अलावा सिर दर्द का एक और कारण है, कि औरतें सारा दिन झुककर काम करती है।

औरतों को kamar aur back pain की शिकायत होती है लेकिन आप घर बैठे कुछ ऐसे आयुर्वेदिक उपचार कर सकती है। जिससे इन्हें जल्दी पीठ दर्द से छुटकारा मिल सकता है।

तो आइए अब हम आपको बताते हैं। पीठ दर्द के कुछ ऐसे आयुर्वेदिक उपचार, जिससे आप बैक पेन से छुटकारा पा सकते हैं।

1 . पीठ दर्द में जायफल का आयुर्वेदिक उपचार
2 . पीठ दर्द में अजवाइन का आयुर्वेदिक उपचार
3 . पीठ दर्द में अखरोट का आयुर्वेदिक उपचार
4 . पीठ दर्द में जीरे और शक्कर का आयुर्वेदिक उपचार

पीठ दर्द का आयुर्वेदिक उपचार – peeth dard ka aayurvedik upachaar.

1 पीठ दर्द में जायफल का आयुर्वेदिक उपचार – Peeth Dard mein japle ka ayurvedic upchar

अब हम आपको बताएंगे, कि पीठ दर्द में जायफल का आयुर्वेदिक उपचार कैसे किया जा सकता है, और यह आपके लिए कैसे फायदेमंद होता है।

Back pain के पीड़ित रोगियों को जायफल को पानी के साथ पीसकर उसका एक लैप तैयार कर लेना चाहिए। इसके बाद इसे तिल के तेल के साथ अच्छी तरह गर्म करना चाहिए।

इसके बाद इस तेल से आप अपने पीठ की अच्छे से मालिश करें। इस आयुर्वेदिक नुस्खे से आपको बहुत ही शीघ्र आराम मिलेगा। यह बहुत ही आसान तथा सरल उपाय है।

अगर आपको भी बहुत ज्यादा पीठ दर्द की समस्या रहती है, तो आप इस उपचार का प्रयोग जरूर करें। इससे आपको बहुत फायदा होगा।

2 पीठ दर्द में अजवाइन का आयुर्वेदिक उपचार – Pet Dard mein ajwain ka ayurvedic upchar

अब हम आपको बताएंगे, कि पीठ दर्द में अजवाइन का आयुर्वेदिक उपचार करके, आप किस तरह आराम पा सकते हैं। इसके लिए आपको अजवाइन का इस्तेमाल करना है।

अजवाइन हमारे घर में बहुत ही आसानी से मिल जाती है, क्योंकि अजवाइन का इस्तेमाल हम मसाले के रूप में भी करते हैं, और अजवाइन का इस्तेमाल कई सारी आयुर्वेदिक दवाइयां बनाने में भी किया जाता है।

बैक पेन के साथ-साथ अजवाइन और बहुत सारे दर्द में भी काम आती है, जैसे पेट दर्द, जोड़ों का दर्द, कमर दर्द, आदि में अजवाइन का प्रयोग किया जाता है। इसमें अजवाइन का सेक भी आपको कमर दर्द में राहत दिला सकता है।

इसके लिए आपको एक साफ कपड़ा लेना है, और उसमें थोड़ी अजवान रखकर उसकी एक पोटली बना लें। इसके बाद आप उस पोटली को तवे पर रखकर सेक ले।

किसी की मदद से अपनी कमर की सिकाई करवाएं, तथा यह उपचार ज्यादा से ज्यादा महिलाओं को करना चाहिए। इससे महिलाओं को बहुत ही ज्यादा फायदा होता है।

3 पीठ दर्द में अखरोट का आयुर्वेदिक उपचार – Pet Dard mein akhrot ka ayurvedic upchar

अब हम आपको बताएंगे, कि पीठ दर्द में अखरोट का आयुर्वेदिक उपचार कैसे किया जाता है, किस तरह अखरोट पीठ दर्द में कारगर साबित होता है।

अगर आप प्रतिदिन खाली पेट तीन से चार अखरोट खाते हैं, तो इससे आपका खून शुद्ध होता है,और आपको कहीं सारे रोगों से छुटकारा मिलता है, जैसे गठिया, कमर दर्द, घुटनों के दर्द, इत्यादि लोगों से राहत मिलती है।

आप इस उपाय को कम से कम दो से तीन हफ्तों तक जरूर करें। इससे पीठ दर्द में तो आपको छुटकारा मिल ही जाएगा। इसके अलावा अखरोट खाने से आपके शरीर को भी मजबूती मिलेगी।

इससे आपका शरीर मजबूत हो जाएगा, इसीलिए आप इस उपाय को इसीलिए आप इस उपाय को अवश्य करें। इससे आपको back pain में बहुत ही जल्दी आराम मिलेगा।

4 पीठ दर्द में जीरे और शक्कर का आयुर्वेदिक उपचार – pet Dard mein jeera aur shakkar ka ayurvedic upchar

आइए अब हम आपको बताते हैं, कि जीरे और शक्कर से पीठ दर्द का इलाज कैसे किया जाता है। पिसे हुए जीरे और शक्कर के पाउडर को पानी के साथ सेवन करना चाहिए।

इससे आपको कमर दर्द और पीठ दर्द दोनों से छुटकारा मिल जाता है। इसके लिए इन आसान और सरल उपायों को जरूर करना चाहिए।