शिलाजीत के फायदे। दूध में मिलाकर पिएं शिलाजीत, मर्दानगी बढ़ने के साथ मिलेंगे ये 8 फायदे।

प्रत्येक प्रकार की शिलाजीत के गुण तथा लाभ। शिलाजीत के आश्चर्यजनक लाभ फायदे जानिये।

दोस्तों आज हम आपको बताते हैं, कि शिलाजीत के क्या-क्या फायदे होते हैं। शिलाजीत को खाने से किस प्रकार हमारा स्वास्थ्य तरोताजा हो जाता है, और शिलाजीत खाने से क्या-क्या फायदे हो सकते हैं। क्या आप जानते हैं, कि शिलाजीत को कौन-कौन ले सकते हैं।

आपको यह लगता होगा, कि यह सिर्फ पुरुषों के लिए है, लेकिन शिलाजीत को महिलाएं भी ले सकती हैं। इसके अलावा बच्चे भी ले सकते हैं। बड़े बूढ़े भी लोग ले सकते हैं। हम आपको यह भी बताएंगे कि शिलाजीत को लेने का सही समय और मात्रा क्या होती है, और शिलाजीत को किस मौसम में लेना चाहिए।

क्या इसे हम गर्मियों में भी ले सकते हैं, जो भी बातें आप शिलाजीत के बारे में नहीं जानते हैं। आज हम आपको सभी बातें बताएंगे। इसके बारे में थोड़ी सी बात की जाए तो शिलाजीत हिमालय में पाया जाने वाला एक natural multi mineral supplement है।

multimineral का मतलब इसमें एक से ज्यादा मल्टीमिनरल नहीं होते हैं यह आपको natural form में मिलते हैं। यह बिल्कुल भी synthetic नहीं है। यह कुदरत ने हिमालय को दिया है। वह सब आपको शिलाजीत में मिलता है। ऐसा बोला जाता है कि आपकी body को जितने मिनरल्स की जरूरत है।

आप सभी शिलाजीत से ले सकते हैं। शिलाजीत में हर तरह का वह minerals है, जो आपकी body को चाहिए। शिलाजीत में यह माना जाता है, कि यह एक ऐसा supplement है, जो आपके शरीर के हर अंग तक जाकर हर body parts तक जाकर उसको detoxify कर सकता है।

यानी कि उस body part से टॉक्सिंस को बाहर निकाल सकता है, और उसको मजबूत बना सकता है। अगर आपका brain सही तरीके से काम नहीं करता है। शिलाजीत उसको भी सही कर सकता है।

अगर आपको खांसी जुखाम जल्दी लगती रहती है। इसका कारण यह है, कि आपकी immunityलो है। उस पर भी काम कर सकता है। अगर आपको sexual weakness है, तो शिलाजीत उसको भी ठीक कर सकता है।

शिलाजीत को इंडियन वियाग्रा। शिलाजीत क्या है Shilajit kya hai

शिलाजीत एक खनिज पदार्थ है, कोई वनस्पति नहीं है। हिमालय की पहाड़ियों से यदि भारत और नेपाल में ज्यादा पाया जाता है। यह चट्टानों से पिघल कर बाहर आ जाता है।

शिलाजीत हमारे आयुर्वेदिक दवा use किया जाता है।इसका स्वाद कड़वा और नमकीन होता है, और इसकी गंध जो है। वह गोमुत्र जैसी होती है। शिलाजीत में ऐसा क्या है।

जो इतना powerfull बना देता हैं। यह बाकी दवाइयों से ज्यादा हमारे शरीर पर असर करता है। शिलाजीत में 85% अलग-अलग प्रकार की दवाइयों मिश्रण पाया जाता है।

शिलाजीत को इस्तेमाल करने के तरीके Shilajit ko istemal karne ke tarike.

शिलाजीत प्रकृति का दिया हुआ ऐसा उपहार है। जिसका भारत में प्राचीन समय से होता आया है, लेकिन शिलाजीत के बारे में जब लोगों से पूछा जाता है, तो उनके दिमाग में सिर्फ एक बात आती है।

शिलाजीत पुरुषों में ताकत बढ़ाने के लिए इसका इस्तेमाल किया जाता है, लेकिन इसके अलावा शिलाजीत ऐसी बीमारियों को भी सही कर सकता है। जिनका उपचार अभी तक किसी के पास नहीं है।

इसके अलावा यह हमारे शरीर की कमजोरी को भी दूर करता है। जहां तक शिलाजीत के रंग की बात करें, तो यह काला गाढ़ा होता है। इस कारण बहुत ही ज्यादा काला होता है।

इसके अलावा शिलाजीत आपको बाजार में एक तरीके का नहीं मिलता है, बल्कि अलग-अलग प्रकार का मिलता है। जो liquid ओर capsule के form मैं मिलता है। इसका सेवन capsule के रूप में नहीं करना चाहिए।

इसका इस्तेमाल गाढे liquid के रूप में ही करना चाहिए। इसके अलावा हम आपको बताते हैं, कि हमें इसका doase कितना लेना चाहिए। एक जवान व्यक्ति के लिए 150 से 250 mg तक करना चाहिए।

आप को liquid शिलाजीत को एक गिलास गुनगुने पानी या गुनगुने दूध के साथ सेवन करना चाहिए। solid शिलाजीत का इस्तेमाल करने के लिए, आपको चाकू या चम्मच की सहायता से इसे थोड़ा काट लेना चाहिए।

इसको आपको थोड़ा सा ही सेवन करना है। इसके अलावा शिलाजीत को कभी भी fridge में नहीं रखना चाहिए। इसको फ्रिज में रखने से यह और भी ज्यादा गाढा हो जाता है।

शिलाजीत के फायदे – benefit of Shilajit. Shilajit Ke Fayde In Hindi – शिलाजीत के 10 फायदे, शारीरिक ताकत के साथ-साथ ये भी होता है

अब हम आपको बताते हैं, कि Shilajit के क्या-क्या फायदे होते हैं, और शिलाजीत हमें किन किन बीमारियों से बचाए रखता है। अगर आप रोजाना शिलाजीत का सेवन करते हैं, तो इससे आपको क्या-क्या फायदे होते हैं। Shilajit के सेवन से आप किन किन बीमारियों से बचे रहते हैं।

1 शिलाजीत सर्दी जुकाम जैसी समस्याओं को दूर करता हैShilajit Sardi jukam jisse samasyaon ko dur karta hai

अगर आप रोजाना शिलाजीत की एक बूंद का सेवन करते हैं, तो इससे आपको सर्दी जुकाम जैसी समस्या बिल्कुल ही खत्म हो जाएगी, इसीलिए अगर आपको भी बार-बार जल्दी से सर्दी जुकाम खांसी जैसी समस्या होती है।

तो आपको भी शिलाजीत का सेवन अवश्य करना चाहिए। यह सर्दी में बहुत ही ज्यादा फायदेमंद होती है, इसीलिए इसका ज्यादा इस्तेमाल सर्दी में किया जाता है। अगर आप पहले से ही शिलाजीत का सेवन करते हैं, तो आपको सर्दी लगने के कोई भी chance नहीं रहते हैं।

2 शिलाजीत sex power को बढ़ाता है। Shilajit sex power Ko badhata hai

अगर आप शिलाजीत का नियमित रूप से शिलाजीत का इस्तेमाल करने से यह sex power को बढ़ाता है। इसके साथ-साथ यह यौन इच्छा में भी वृद्धि करता है, और इसका सेवन करना अत्यंत लाभकारी होता है।

लेकिन इसके बाद भी आपको एक बार डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए, इसीलिए अगर आपको भी ऐसी समस्या है, तो आपको भी शिलाजीत का सेवन जरूर करना चाहिए।

3 शिलाजीत पाचन क्षमता को सही करता है Shilajit purchase Santa ko Sahi karta hai

हमें अपनी पाचन क्षमता के अनुसार ही आपको शिलाजीत का प्रयोग करना चाहिए, दूध या शहद के साथ Shilajit सुबह होने से पहले या फिर सूरज निकलने से पहले करना बहुत ही ज्यादा beneficial होता है।

ऐसा करने से आपका शरीर और स्वास्थ्य दोनों अच्छे बने रहते हैं। इसके साथ-साथ आपको Shilajit का सेवन करने के 3 से 4 घंटे बाद कुछ न कुछ जरूर खाना चाहिए।

4 शिलाजीत से मानसिक तनाव केसे दूर करे। Shilajit se mansik tanav kaise dur Karen

मानसिक तनाव को दूर करने के लिए आप धी के साथ शिलाजीत का प्रयोग कर सकते हैं, ऐसा करने से आपका सर दर्द तो दूर होता ही है। साथ ही साथ आपको freshness ओर ताजगी भी महसूस होती है।

5 शिलाजीत से शीघ्रपतन की समस्या कैसे दूर करें।‌Shilajit se shighrapatan ki samasya kaise dur kare

जिन लोगों को शीघ्रपतन की समस्या है, उन्हें नियमित रूप से शिलाजीत का सेवन करना चाहिए। ऐसा करने से उन्हें आराम मिलेगा,और आपको शीघ्रपतन जैसी समस्या समाप्त हो जाएगी, इसीलिए आप इसका सेवन अवश्य करें।

शिलाजीत के नुकसान Shilajit ke side effect

अगर हम शिलाजीत का सेवन अधिक मात्रा में करते हैं, तो इससे हमें कई सारे नुकसान हो सकते हैं। यहां तक कि हमें जानलेवा खतरा भी हो सकता है, वैसे तो शिलाजीत प्रकृति की देन है, लेकिन जिस चीज का फायदा होता है।

उसका ज्यादा मात्रा में सेवन करने से उसका side effect भी होता है, चाहे वह चीज प्रकृति से ही उत्पन्न क्यों नहीं हुई है। इसमें iron उच्च मात्रा में पाया जाता है। शिलाजीत का सेवन ज्यादा करने से यह हमें allergy का कारण बन सकता है।

शिलाजीत का सेवन कभी भी गर्मी के मौसम में नहीं करना चाहिए। अगर आप गर्मी के दिनों में शिलाजीत का सेवन करते हैं, तो इससे आपको कब्ज से लेकर बवासीर जैसी भयंकर बीमारी भी हो सकती है, क्योंकि Shilajit गर्म तासीर का होता है।

इसके अलावा सर्दी के मौसम में भी आपको 1 महीने से ज्यादा शिलाजीत का सेवन नहीं करना चाहिएं। शिलाजीत का सेवन कभी भी अकेले ना करें। Shilajit के साथ दूध या किसी खाद्य पदार्थ का सेवन अवश्य करना चाहिए।

इसका सेवन गर्भावस्था में doctor से पूछ कर ही करना चाहिए, क्योंकि अगर आप गर्भावस्था में शिलाजीत का सेवन ज्यादा मात्रा में करते हैं, तो इसे आपके बच्चे को भी खतरा हो सकता है।

इसीलिए अगर आप pregnancy में शिलाजीत का सेवन करते हैं, तो आपको अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लेनी चाहिए। इसके साथ साथ कई बार हम बिना ब्रांड देकर ही Shilajit खरीद कर ले आते हैं।

वह अशुद्ध Shilajit होता है, इसीलिए शिलाजीत अच्छे ब्रांड का देख कर ही लाना चाहिए, और इसके साथ-साथ आपको liquid वाली Shilajit का सेवन करना चाहिए।

कैप्सूल का सेवन नहीं करना चाहिए, इसीलिए इसका सेवन ज्यादा मात्रा में नहीं करना चाहिए, नहीं तो फायदे की जगह नुकसान हो सकता है।